Corona के खतरे के बीच शुरू हो रहा पोल्टी फॉर्म का सर्वे, क्योंकि दाना-पानी…

corona, survey of poultry farm, navpradesh,

corona, survey of poultry farm

अजमेर। कोरोना (corona) के खतरे केे बीच पशुपालन विभाग पोल्ट्री फॉर्म का सर्वे (survey of poultry farm) शुरू करने जा रहा है। इसके लिए पांच दलों का गठन किया गया है। यह दल निर्धारित प्रारूप में वस्तु स्थिति की जांच करके आंकड़ों के साथ एक हफ्ते में अपनी रिपोर्ट देंगे।

कोरोना (corona) से उत्पन्न स्थिति के मद्देनजर राजस्थान केे अजमेर में पशुपालन विभाग ने बुधवार से ही पोल्ट्री फार्म का सर्वे (survey of poultry farm) शुरू कर दिया है। विभाग की अतिरिक्त निदेशक (क्षेत्र) डॉ. रीता पदभामन ने आदेश जारी करके एक अप्रैल से मुर्गियों के मरने एवं दाने की अनुपलब्धता के मामले में सर्वे दलों का गठन किया है।

उन्होंने बताया कि सर्वे दल जिलेभर के 500 पोल्ट्री फार्मों में सर्वे कार्य को अंजाम देंगे और निर्धारित प्रारूप में वस्तु स्थिति की जांच करके आंकड़ों के साथ एक हफ्ते में अपनी रिपोर्ट देंगे। इसके लिए पांच दलों का गठन किया गया है जिसके लिए प्रभारी भी नियुक्त किये गए हैं।

गरमाया है मुर्गियों के मरने का मामला

उल्लेखनीय है कि अजमेर में कथित रूप से दानों के अभाव में पोल्ट्री फार्म में मुर्गियों के मरने का मामला गरमाया हुआ है। उधर, अजमेर शहर में आज से सौ नए नर्सिंग कर्मियों की टीम तारागढ़, अंदरकोट, नागफणी-दरगाह संपर्क सड़क के सर्वे कार्यों को अंजाम देंगे।

अजमेर में अब तक 5 लाख की स्क्रीनिंग

अजमेर में कोरोना (corona) के रोकथाम के लिए अब तक करीब पांच लाख लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। चौबीस हजार से ज्यादा होम आइसोलेटेड हैं जबकि 127 क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती है। तीर्थराज पुष्कर से भी छह स्विट्जरलैंड पर्यटकों के वापसी के समाचार हैं और अब भी 356 विदेशी पर्यटक पुष्कर के विभिन्न होटलों में मौजूद हैं। पुलिस की प्रभावी पहल के चलते अजमेर अब सुरक्षित नजर आ रहा है। पुलिस प्रशासन लॉकडान का सख्ती से पालन करा रहा है

News In English

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *