Tiktok को टक्कर : हर घंटे 1 लाख बार डाउनलोड हो रहा Indian App ‘चिंगारी’

tiktok, collision, Indian app, chingari, Popularity boom,

chingari

-भारतीय ऐप चिंगारी की पॉप्युलैरिटी तेजी से बढ़ रही

नई दिल्ली। टिकटॉक (tiktok)को टक्कर (collision) देने वाले भारतीय ऐप चिंगारी (Indian app chingari) की पॉप्युलैरिटी तेजी (Popularity boom) से बढ़ रही है। भारत सरकार द्वारा टिकटॉक पर बैन लगाए जाने के बाद चिंगारी ऐप के डाउनलोड्स में बड़ा उछाल आया है। चिंगारी के को-फाउंडर और चीफ प्रॉडक्ट ऑफिसर सुमित घोष ने अपने एक ट्वीट में बताया कि चिंगारी ऐप हर घंटे एक लाख बार डाउनलोड किया जा रहा है।

इतना ही नहीं इस ऐप के व्यूज हर 30 मिनट में 10 लाख तक बढ़ रहे हैं। आलम यह रहा कि ज्यादा डाउनलोड्स की वजह से चिंगारी ऐप का सर्वर डाउन हो गया जिसके बाद ऐप के को-फाउंडर ने ट्विटर पर लोगों से धैर्य रखने की अपील की।

टिकटॉक का देसी विकल्प है चिंगारी

चिंगारी ऐप (Indian app chingari) में विडियो को अपलोड और डाउनलोड किया जा सकता है। इसके अलावा इस ऐप में फ्रेंड्स के साथ चैटिंग, नए लोगों से बातचीत, फीड के जरिए ब्राउजिंग के साथ वॉट्सऐप स्टेटस, विडियो, ऑडियो क्लिप्स, त्रढ्ढस्न स्टिकर्स और फोटोज के साथ क्रिएटिविटी की जा सकती है।

चाइनीज ऐप पर बैन के बाद बढ़े डाउनलोड्स

चिंगारी ऐप (Indian app chingari) के डाउनलोड्स में सरकार द्वारा 59 चाइनीज ऐप्स पर बन लगाए जाने के बाद काफी बढ़ोतरी दर्ज की गई। भारत सरकार ने टिकटॉक समेत कुल 59 चीन क ऐप्स पर बैन लगा दिया है। आपको बता दें भारत और चीन के बीच बीते कुछ समय से सीमा विवाद को लेकर तनाव की स्थिति बनी हुई है।

25 लाख से ज्यादा डाउनलोड्स

चिंगारी ऐप (Indian app chingari) अभी तक प्ले स्टोर पर 25 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड हो चुका है। ऐप लॉन्च होते ही काफी पॉप्युलर हो गया था। शुरुआती 72 घंटे में यह ऐप 5 लाख बार डाउनलोड हुआ था। ऐप अभी अंग्रेजी के अलावा 9 और भाषाओं में उपलब्ध है। ऐप हिंदी, बांग्ला, गुजराती, मराठी, कन्नड़, पंजाबी मलयालम, तमिल और तेलगू भाषा सपॉर्ट करता है।

मित्रों ऐप भी दे रहा टिकटॉक का विकल्प

यह ऐप टिकटॉक के देसी वर्जन के तौर पर लॉन्च किया था। इसे लोगों ने हाथों हाथ लिया। आलम यह रहा कि एक महीने के अंदर ही इस ऐप के डाउनलोड्स की संख्या 50 लाख के पार पहुंच गई। इस ऐप को लेकर भारत में काफी चर्चा हुई थी। बाद में इस ऐप का पाकिस्तानी कनेक्शन भी सामने आया था। इसके बाद इस ऐप को प्ले स्टोर से हटा दिया गया था।

News In English

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *