CM Baghel ने लॉन्च की न्याय योजना, किसानों को दिए पहली किश्त के 1500 करोड़

cm baghel, chhattisgarh, rajiv gandhi kisan nyay yojana, navpradesh,

cm baghel launches rajiv gandhi kisan nyay yojana

कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुईं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व सांसद राहुल गांधी

रायपुर/नवप्रदेश। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (cm baghel) ने पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्वर्गीय राजीव गांधी के शहादत दिवस पर गुरुवार को छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के किसानों के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना (rajiv gandhi kisan nyay yojana) का शुभारंभ किया।

इस कार्यक्रम में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और सांसद राहुल गांधी ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपनी उपस्थिति दर्ज की। कार्यक्रम में राज्य मंत्रिमंडल के मंत्रिगण भी शामिल हुए।

सीएम आवास पर आयोजित हुआ कार्यक्रम

राजीव गांधी किसान न्याय योजना (rajiv gandhi kisan nyay yojana) का शुभारंभ कार्यक्रम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (cm baghel) के रायपुर स्थित निवास कार्यालय में आयोजित किया गया, जहां मुख्यमंत्री बघेल, विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. चरणदास महंत तथा मंत्रिमंडल के सदस्य उपस्थित रहे। योजना के तहत मुख्यमंत्री ने गुरुवार को पहली किश्त के रूप में प्रदेश (chhattisgarh) के किसानों के खाते में 1500 करोड़ रुपए की राशि अंतरित की। सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने किसानों के हित में प्रारंभ की गई छत्तीसगढ़ सरकार इस अभिनव योजना के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके मंत्रिमण्डल के सहयोगियों की सराहना की।

ऐसी है योजना…

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा प्रारंभ की गई देश मे अपनी तरह की पहली योजना राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत धान, मक्का और गन्ना (रबी) उत्पादक किसानों के खाते में लगभग 5700 करोड़ रूपए की राशि किसानों को खेती किसानी के लिए प्रोत्साहित करने, उन्हें उपज का सही दाम दिलाने के उद्देश्य से आदान सहायता के रूप में दी जा रही है। यह राशि चार किश्तों में किसानों को दी जाएगी।

आज इसकी पहली किश्त के रूप में 1500 करोड़ रूपए की राशि डीबीटी के माध्यम से किसानों के खाते में ऑनलाइन अंतरित की गई। इस कार्यक्रम में जिलों से सांसद, विधायक, अन्य जनप्रतिनिधि, किसान और विभिन्न योजनाओं के हितग्राही भी वीडियो कांफ्रेसिंग से जुड़े।

News In English

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *