BJP MP सोनी बोले- पीठ न थपथपाए कांग्रेस, आरोप नहीं काम करे सरकार

bjp mp, sunil soni, corona crisis, chhattisgarh government, attack, navpradesh,

bjp mp sunil soni

रायपुर/नवप्रदेश। भाजपा (bjp mp) सांसद सुनील सोनी (sunil soni) ने कोरोना संकट (corona crisis) को लेकर राज्य सरकार (chhattisgarh government) पर निशाना (attack) साधा है।

भाजपा सांसद (BJP MP) सुनील सोनी (sunil soni) ने तैयारी को नाकाफी बताते हुए कहा है कि कोरोना संकट (corona crisis) अभी टला नहीं है और राज्य सरकार (chhattisgarh government) पहले से ही अपनी पीठ थपथपा रही है।

एम्स रायपुर की अपनी क्षमता

उन्होंने राज्य सरकार पर निशाना (attack) साधते हुए हुए कहा कि सूरजपुर जिले के जिन 10 व्यक्तियों का मेकाहारा रायपुर में रेपिड टेस्ट किया गया है, उनका अब रायपुर एम्स में टेस्ट किया जा रहा है। रायपुर एम्स की अपनी एक क्षमता है और क्षमता से अधिक संख्या बढऩे पर स्थिति अनियंत्रित हो सकती है।

सरकार की तैयारी नहीं एम्स पर ही निर्भरता

असल में राज्य सरकार की ठोस तैयारी है ही नहीं और सिर्फ एम्स पर ही निर्भर प्रतीत हो रही है। श्री सोनी ने कहा कि वर्तमान में छत्तीसगढ़ प्रदेश के सैकड़ों छात्र लाये गये हैं, हजारों लोग अन्य राज्यों में फंसे हुए हैं और लाखों मजदूरों का आना भी बाकी है।

अन्य प्रदेशों से आने हैं लोग तैयारी करें

ऐसी स्थिति में यदि हजारों की संख्या में अन्य प्रदेशों से फंसे लोगों को लाया जाता है तो स्थिति से निपटने के लिए पूर्व से तैयारी की जानी चाहिए न कि आरोप-प्रत्यारोप। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने इन लोगों को क्वारंटीन किये जाने की क्या-क्या तैयारी की है?

तो ही बचेंगे बड़ी परेशानी से

यदि अन्य प्रदेशों से हजारों मजदूरों और अन्य लोगों को लाने के पूर्व इनके क्वांरटीन करने, रूकने, जांच करने, भोजन इत्यादि के संबंध सरकार व्यवस्था कर लेती है तो निश्चित ही आने वाले समय में बड़ी परेशानी से बचा जा सकेगा, यह मेरा आग्रह और सुझाव भी है। राज्य सरकार को दूरगामी सोच के आधार पर ही यथाशीघ्र निर्णय लेने होंगे।

संभाग स्तर पर तैयार नहीं अस्पताल

सोनी ने कहा कि राज्य सरकार से बार-बार आग्रह करने के पष्चात भी संभाग स्तर पर न ही अस्पताल तैयार किये गये हैं और न ही लैब, जिसकी अत्यंत आवष्यकता है। हम यहॉ राजनीति नहीं कर रहे हैं बल्कि एक सांसद के दायित्व के नाते सरकार को आग्रह कर रहे हैं, इसे कृपया खंडन न करें। मैं अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहा हूॅ, तो आप मुझ पर आरोप लगा रहे हैं। इससे न तो आप बच सकते हैं और न ही छत्तीसगढ़।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *