साढ़े चार साल बाद जागा विपक्ष

पालिका में भ्रष्टाचार, वार्डों में भाजपा पार्षद के कामों की अनदेखी को लेकर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन
नवप्रदेश संवाददाता
कांकेर। सोमवार को जिला भाजपा के द्वारा बीते साढ़े चार साल के नगरपालिका के कामकाज व पालिका में हुए 10 करोड़ के भष्र्टाचार को लेकर जिला भाजपा ने पुराना बस स्टैंड में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर पालिका अध्यक्ष व पालिका के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया गया इस दौरान उपस्थित भाजपा पदाधिकारीयो ने बीते साढ़े चार साल में हुए भष्र्टाचार की जाँच पर पालिका के खिलाफ चरणबद्ध प्रदर्शन आंदोलन की हुँकार भरी सांसद से लेकर जिला भाजपा के पदाधिकारियों ने पालिका पालिकाध्यक्ष सहित जिला प्रशासन पर जमकर कटाक्ष किया।

धरना प्रदर्शन में काँकेर सांसद मोहन मंडावी पूर्व विधायक सुमित्रा मारकोले पूर्व मछुवा कल्याण बोर्ड अध्यक्ष /राज्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन भरत मटियारा जिला भाजपा अध्यक्ष हलधर साहु नपाप उपाध्यक्ष रमशीला हलधर साहू जिला मंत्री विजय मंडावी जिला महामंत्री दिलीप जायसवाल मंडल अध्यक्ष दिलीप गांधी मंडल महामंत्री अरुण कौषिक दीपक खटवानी अजय पप्पु मोटवानी जयंत अट्टभैया दिनेश रजक ईश्वर नाग संजू सोनी मीरा सलाम जागेश्वरी साहू पूर्व एल्डरमैन देवेन्द्र सिंह भाऊ उत्तम यादव समेत बड़ी संख्या में भाजपा के पदाधिकारी मौजूद थे।
जिला भाजपा के पदाधिकारियों के पूरे प्रदर्शन में पप्पू मोटवानी के काम होती रही चर्चा
नगर पालिका के भ्ष्र्टाचार के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन के दौरान सांसद से लेकर पूर्व विधायक सहित जिला भाजपा के पदाधिकारियों ने पालिका में मौजूद 13 पार्षदों में केवल राजापारा पार्षद अजय पप्पू मोटवानी की तारीफ करते आमजनो में यह संदेश दे दिया कि सारे पार्षद एक तरफ और पप्पू मोटवानी एक तरफ यानि वनमैन आर्मी के रूप में बीते साढ़े चार सालों से पप्पू मोटवानी पालिका के खिलाफ मोर्चा सफाई अभियान सहित पार्टी को एकसूत्र में पिरोने के लिए सबसे उपयुक्त हो चुके है धरना प्रदर्शन के दौरान साँसद पूर्व विधायक जिला अध्यक्ष महामंत्री सहित सभी लोगो ने पप्पू मोटवानी के विपक्ष की भूमिका व आमजनो की समस्या लगातार दूध नदी की सफाई अभियान के कार्यों की प्रशंसा किया गया ।
भाजपा जिला महामंत्री बिफरे, कहा 5 सालों का हिसाब दे पालिका
धरना प्रदर्शन के दौरान माइक मिलते ही भाजपा के वरिष्ठ आदिवासी नेता व भाजपा के जिला महामंत्री विजय मंडावी ने अपने भाषण के दौरान पालिका जिला प्रशासन सहित शहर क्व नामचीन होटल ग्रीनपाम पर जमकर निशाना साधते कहा कि बीते साढ़े चार सालो में पालिका को दिए गए बजट का हिसाब देते जमकर भष्र्टाचार का आरोप लगाया यहाँ तक कलेक्टर को भी नही बक्शा गया उन्होंने कहा कि पालिका में हमारे चुने प्रतिनिधि यो ने अपना काम सही नही किया है अगर समय समय पर भष्र्टाचार के खिलाफ शंखनाद किया होता तो शायद हमे अपने अधिकारों से वंचित होने की आवश्यकता महसूस नहीं होती।
देर से ही सही साढ़े चार साल बाद विपक्ष की एकजुटता से सहमी पालिका
ज्ञात हो कि बीते साढ़े चार साल से और वह भी 15 साल से काबिज तत्कालीन भाजपा सरकार के समय विपक्ष में रहने के बाद भी मात्र राजापारा पार्षद अजय पप्पु मोटवानी ने ही वनमैन ऑर्मी की भूमिका को निभाते पालिका के विरुद्ध समय समय पर उग्र प्रदर्शन किया है बाकी बचे पार्षद सहित उपाध्यक्ष ने भी पालिका में हुए भष्र्टाचार के खिलाफ मुह तक नही खोला जिसके चलते पालिका में बैठे सत्तारूढ़ पार्टी के अध्यक्ष व अधिकारियों की मिलीभगत से शहर के विकास के पैसों को जमकर बंदरबांट कर दिया गया है। अब जब महज 4 महीने पालिका चुनाव को शेष बचे है तब की स्थिति में 5 जून को संग़ठन प्रभारी के दबाव में आकर यह धरना प्रदर्शन किया गया है।

Share

Leave a Comment