वाराणसी की तर्ज पर चल रहा ज्योत्सना का चुनाव प्रचार

  •  सामाजिक बैठकों मे बन रही कांग्रेस को बढ़त दिलाने की रणनीति

कोरबा  । लोकसभा चुनाव 2019 के लिये कोरबा संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी श्रीमती ज्योत्सना महंत के पक्ष मे देश की सबसे हाई प्रोफ ाईल सीट वाराणसी की तर्ज पर चुनाव प्रचार जारी है। पूरे कोरबा संसदीय क्षेत्र मे विभिन्न सामाजिक ईकाइयों के जरिये समाज के हर वर्ग को साधने की जुगत लगाई जा रही है। इस वक्त पूरे प्रदेश मे कोरबा इकलौती लोकसभा सीट है जहां राज्य भर से प्रत्येक समाज के पदाधिकारी अपने अपने समाज को कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष मे मतदान के लिये तैयार कराने संसदीय क्षेत्र मे छितराये हुये हैं। राज्य के प्रत्येक जिले से पंहुचे महंत समर्थक डोर टू डोर भी ज्योत्सना महंत के लिये वोट की अपील कर रहे हैं।
कोरबा लोकसभा मे बसे ब्राम्हण मतदाताओं को कांग्रेस के पक्ष मे करने के लिये रायगढ से कोरबा पंहुचे विश्व ब्राम्हण महासंघ के जिलाध्यक्ष व वरिष्ठ कांग्रेस प्रवक्ता हरेराम तिवारी भी विगत पांच दिनों से संसदीय क्षेत्र मे सभी विप्र संगठनों की बैठक लेकर ब्राम्हणों को ज्योत्सना महंत के पक्ष मे मतदान करने की अपील करते देखे जा रहे हैं। हरेराम तिवारी के अलावा डा. महंत के बेहद करीबी व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता जगदीश मेहर समेत जिला कांग्रेस के दर्जनों नेता विगत सप्ताह भर से कोरबा मे डेरा डाले हुये हैं। रायगढ़ के अलावा चांपा,बिलासपुर ,रायपुर आदि विभिन्न जिलों से भी डा. चरणदास महंत के करीबी तथा कांग्रेसी राजनेता कोरबा संसदीय क्षेत्र मे सामाजिक वोट बैंक के जरिये श्रीमती ज्योत्सना महंत को बिलकुल वैसा ही समर्थन और बढ़त दिलाने के लिये प्रयासरत हैं जैसे वाराणसी लोकसभा मे पीएम नरेन्द्र मोदी के पक्ष मे गुजरात के मोदी समर्थकों ने वाराणसी पंहुचकर घर घर चुनाव प्रचार किया था। श्रीमती ज्योत्सना महंत के समर्थन मे विभिन्न जिलों से कांग्रेस का प्रचार करने कोरबा पंहुचे राजनेता कांग्रेस की न्याय स्कीम को सत्ता परिवर्तन का मास्टरस्ट्रोक बता रहे है । साथ ही नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार को मतदाताओं के बीच जनता से वादाखिलाफी करने वाली, जुमलेबाज और पूंजीपतियों के हांथ की कठपुतली वाली सरकार बताया। कांग्रेसी नेता अपने चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा की नीतियों को देश के लिये विभाजनकारी और विद्वेषपूर्ण बताते हुये केन्द्र मे इस बार कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार को बहुमत दिलाने और कांग्रेस का हांथ मजबूत करने की बात कह रहे हैं। गौरतलब है कि कोरबा लोकसभा सीट डॉ. चरणदास महंत का गढ़ मानी जाती है। हांलाकि पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. चरणदास महंत पिछले चुनाव मे कुछ अंतर से पीछे रहे थे किंतु तीन माह पूर्व हुये विधानसभा चुनाव मे प्रदेश के अन्य जिलों के समान कोरबा जिले की भी सभी विधानसभा सीट पर कांग्रेस को अप्रत्याशित बढत मिली ,जिसमे कोरबा के रणनीतिकार डॉ.चरणदास महंत के हसदेव पदयात्रा और कुशल चुनावी प्रबंधन की महती भूमिका रही। यही वजह है कि कोरबा लोकसभा सीट पर कांग्रेस की ओर से केवल एक ज्योत्सना महंत का नाम ही दिल्ली भेजा गया था जिस पर कांग्रेस चुनाव कमेटी की मुहर लगते देर न लगी। पीएचडी तक शिक्षित और छग की सियासत के सबसे बड़े घराने की बहू श्रीमती ज्योत्सना महंत के चुनाव मे उतरने के बाद न केवल समूचे कोरबा अंचल बल्कि पूरे छत्तीसगढ़ के महंत समर्थकों मे अपार उत्साह का माहौल है। इसी कारण हर जिले से महंत समर्थक हफ्ते से लेकर पखवाड़े तक कोरबा मे डेरा जमाकर कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार मे जुटे हैं।

Spread the love

Leave a Comment