लो… महाराष्ट्र में फिर फंस गया सत्ता का पेंच

maharashtra, obstacle, shivsena, forming government, navpradesh,

shivsena leaders with governor

शिवसेना ने राज्यपाल से मिलकर जताई सरकार बनाने की इच्छा, मांगा 48 घंटे का समय
राज्यपाल ने पहले किया इनकार, फिर दिए 24 घंटे
कांग्रेस नेता खडग़े बोले-अभी चल रही है पार्टी की बैठक, फैसला कल

मुंबई/नवप्रदेश। महाराष्ट्र (maharashtra)  में सरकार गठन को लेकर फिर पेंच फंस (obstacle) गया है। शिवसेना (shivsena) ने सोमवार की शाम को राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने (forming government) की इच्छा व्यक्त की है। राज्यपाल से मिलने के बाद शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे व विधायक आदित्य ठाकरे ने बताया कि रविवार को राज्यपाल ने शिवसेना को सेकंड लार्जेस्ट पार्टी होने के नाते सरकार बनाने का न्योता दिया था।

इसकी अंतिम सीमा सोमवार शाम 7:30 बजे तक की थी। आदित्य ने बताया कि इसके मुताबिक हम 7:30 बजे से पहले राज्यपाल से मिले और सरकार बनाने की अपनी इच्छा संबंधी दावा पेश किया। हमने शिवसेना विधायकों के समर्थन का पत्र राज्यपाल को सौंप दिया है। अभी कांग्रेस व एनसीपी के समर्थन का पत्र प्राप्त होने को है। जिसके मद्देनजर हमने राज्यपाल से 48 घंटे का समय मांगा है। हमने मांग की थी कि साथी दलों की जो प्रक्रिया है उसे पूरा करने के लिए समय दिया जाए। हमें महाराष्ट्र में स्थिर सरकार चाहिए।

आदित्य ठाकरे बोले-खारिज नहीं हुआ हमारा दावा

वहीं राज्यपाल ने पहले इनकार के बाद शिवसेना (shivsena) को 24 घंटे का वक्त दिया है। आदित्य ने यह भी कहा कि हमारा दावा खारिज नहीं किया। आदित्य ने कहा कि चूंकि शिवसेना ने सरकार बनाने (forming government) की अच्छा व्यक्त कर दी है इसलिए हमें यह समय मिलना चाहिए। दूसरी ओर शिवसेना को समर्थन लेकर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खडग़े ने कहा कि अभी इस मामले को लेकर कांग्रेस की बैठक चल रही है। फैसला कल लिया जाएगा। वहीं कांग्रेस नेता व महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा-देखिए राजभवन में क्या होता है। बहरहाल महाराष्ट्र (maharashtra)  में सरकार गठन को लेकर फिर पेंच फंस (obstacle) गया है।

ये हो सकता है आगे

  • अब राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी तीसरी व चौथी सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते एनसीपी व कांग्रेस को भी सरकार बनाने का न्योता दे सकते हैं।
  • यदि कांग्रेस ने शिवसेना को समर्थन नहीं दिया तो राष्ट्र्रपति शासन भी लग सकता है।

दिनभर ऐसे चला घटनाक्रम

  • सोमवार को दिनभर यही खबर थी कि कांग्रेस शिवसेना को समर्थन देने पर पशोपेश में है।
  • सोमवार दोपहर शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे और एनसीपी चीफ शरद पवार की मुंबई के होटल में बैठक हुई।
  • शिवसेना आधिकारिक रूप से एनडीए से बाहर हो गई। अरविंद सावंत ने मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया
  •  शाम होते होते यह खबर भी आई कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना को समर्थन दे दिया है। कांग्रेस एनसीपी-शिवसेना की सरकार को बाहर से समर्थन देगी।
  • जिसके बाद यह खबर भी आई कि एनसीपी ने भी शिवसेना को समर्थन दे दिया है।
  • इसी बीच आदित्य ठाकरे कुछ शिवसेना नेताओं के साथ राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने पहुंचे।
Share

News In English

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: