महाराष्ट्र: अब ये नेता खुद ही लेंगे फैसला कि सीएम बने या नहीं

maharashtra, government formation, udhav pawar, chief minister, navpradesh,

maharashtra politics

– सरकार गठन को लेकर शिवसेना, एनसीपी, कांग्रेस की अहम बैठक संपन्न
-पवार बोले- तीनों दल इस बात पर सहमत कि उद्धव करें सरकार का नेतृत्व

मुंबई/नवप्रदेश। महाराष्ट्र (maharashtra) में सरकार गठन (government formation) को लेकर शुक्रवार को मुंबई में शिवसेना, एनसीपी व कांग्रेस की अहम बैठक (meeting) हुई।

इस बैठक में तीनों के गठबंधन को लेकर करीब-करीब मुहर लग गई है। हालांकि इस संभावित ‘महाविकास गठबंधन’ का ऐलान नहीं हो सका। लेकिन बैठक के बाद एनसीपी चीफ शरद पवार (sharad pawar) ने इसके संकेत दे दिए हैं कि शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे (udhav thackeray) महाराष्ट्र (maharashtra) के मुख्यमंत्री (chief minister) हो सकते हैं।

उन्होंने (sharad pawar) कहा कि बैठक में हम तीनों (शिवसेना, एनसीपी व कांग्रेस) इस बात पर सहमत हो गए हैं कि सरकार का नेतृत्व उद्धव ठाकरे करें। पवार ने आगे कहा कि सरकार किस कार्यकाल के आधार पर चलेगी, इसको लेकर बातचीत चल रही।

इसका फॉर्मूला लिखित रूप में सामने आएगा, जिसके लिए संभवतया कल भी बैठक हो सकती है। वहीं बैठक के बाद उद्धव ने पत्रकारों से चर्चा में कहा कि मैं अभी आधी अधूरी जानकारी नहीं दूंगा।

आज की बैठक मेंं काफी मुद्दों का हल निकल गया है, कुछ मुद्दे बाकी है, जिनका हल भी ढूंढ लिया जाएगा। अभी और चर्चा होगी। उन्होंने कहा कि हम तीनों शिवसेना, एनसीपी, कांग्रेस एकसाथ आकर हर सवाल का जवाब का देंगे। इस बीच कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का खाका तैयार करने के लिए खबर लिखे जाने तक तीनों दलों की संयुक्त बैठक जारी थी।

इसलिए नहीं हो सका नए गठबंधन का ऐलान

शिवसेना, एनसीपी व कांग्रेस तीनों दल उद्धव को मुख्यमंत्री बनाने को तैयार हो गए हैं, फिर भी उद्धव का फैसला अहम होगा। क्योंकि उद्धव (udhav thackeray) हमेशा से कहते आ रहे हैं कि मुख्यमंत्री (chief minister) शिवसैनिक होगा। ऐसे में यह देखना अहम होगा कि वे खुद सीएम पद स्वीकार करेंगे या अपनी पार्टी के किसी नेता को इसके लिए आगे करेंगे।

महाराष्ट्र के राजनीतिक विश£ेषकों का मानना है कि शायद उद्धव ने इस पर फैसला लेने के लिए कुछ समय चाहा है। इसलिए शुक्रवार को नए गठबंधन का ऐलान भी नहीं हो सका है। लिहाजा शनिवार को भी तीनों दलों की बैठक हो सकती है, जिसके बाद प्रसे कॉन्फ्रेंस कर तीनों दल नए गठबंधन का ऐलान कर सकते हैं।

Share

News In English

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: