वित्त मंत्री ने बजट भाषण में सुनाई कविता, मोदी सरकार की तुलना, विपक्ष लाल

Finance Minister Nirmala Sitharaman, Budget speech, poem, navpradesh,

Nirmala Sitharaman

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने बजट भाषण (Budget speech) के दौरान एक कविता (poem) से तुलना करते हुए मोदी सरकार के काम गिनवाए जिसपर हंगामा हो गया। जैसे-जैसे निर्मला कविता की लाइन पढ़ती रहीं, विरोध के स्वर तेज होते गए। विपक्ष इसपर लाल हो गया और सदन में हंगामा होने लगा।

Budget 2020 : एलआईसी में भी अपनी बड़ी हिस्सेदारी बेचेगी सरकार, बजट में ऐलान

क्या था कविता का मतलब

वित्त मंत्री सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman)  कविता को तमिल में पढ़ा उसके बाद उसका अनुवाद करते हुए बताया कि कवि तिरुवल्लुवर के अनुसर एक अच्छे देश में पांच चीजें होती हैं। पहली कि वहां बीमारियां न हो, पैसा हो, अच्छी फसल हो, खुशहाली हो और जगह सुरक्षित हो। पीएम मोदी की योजनाओं के नाम लिए और कहा कि उनसे देश खुशहाल हुआ है।

Budget 2020: इंकम टैक्स में 5 से 10% तक छूट, 5 लाख तक कमाने वाले कर मुक्त, लेकिन…

पहले सुनाई कश्मीर पर कविता

वित्त मंत्री (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने एक कश्मीरी कविता का जिक्र किया। कश्मीर में कविता का अनुवाद भी हिंदी बताया। उन्होंने कहा, ‘हमारा वतन खिलते हुए शालीमार बाग जैसे, हमारा वतन डल झील में खिलते हुए कमल जैसा, नौजवानों के गर्म खून जैसा, मेरा वतन, तेरा वतन, हमारा वतन, दुनिया का सबसे प्यारा वतन। यह कविता पंडित दीनानाथ कौल की है।

Share

News In English

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: