Archery accident: तिरंदाजी के वक्त 150 किमी की रफ्तार से गर्दन में जा घुसा बाण

archery accident, practice, girl player, arrow pierce in neck, navpradesh,

archery accident

गुवाहाटी/नवप्रदेश। तिरंदाजी (archery accident) की प्रैक्टिस (practice) करते वक्त एक 12 वर्ष की तिरंदाज (girl player) की गर्दन में बाण घुस गया (arrow pierce in neck) ।

BIG BREAKING : भीषण सड़क हादस, ट्रक बस में जबदरस्त भिडंत कई जिंदा जले

बाण (arrow) करीब 150 किमी प्रति की गति से खिलाड़ी के बाएं कंधे में घुसकर गर्दन तक जा पहुंचा (arrow pierce in neck) । ये हादसा असम की राजधानी गुवाहाटी में चल रहे खेलो इंडिया यूूथ गेम्स 2020 के दौरान हुआ। डॉक्टरों ने चार घंटे के ऑपरेशन के बाद तिरंदाज की जान बचाई।

archery accident, practice, girl player, arrow pierce in neck, navpradesh,
archery accident

15 सेंटी मीटर तक घुस गया था शरीर में

घायल तिरंदाज (girl player) का नाम शिवगिनी गोहेम हैं और उनकी उम्र 12 वर्ष है। तिरंदाजी ( archery accident) की प्रैक्टिस (practice) के वक्त छोटी सी चूक के कारण 65 सेंटी मीटर बाण का 15 सेंटी मीटर हिस्सा शिवगिनी की गर्दन में जा घुसा (pierce in neck) । यह बाण शिवगिनी की गर्दन से मस्तिष्क को रक्त पहुंचाने वाली रक्तवाहिनी तक पहुंच गया था।

डॉक्टरों की थोड़ी भी चूक खत्म कर देती कॅरियर

बाण (arrow) निकालते वक्त डॉक्टरों से थोड़ी भी चूक हो जाती तो शिवगिनी का कॅरियर खत्म हो जाता। लेकिन एम्स अस्पताल के न्यूरो सर्जन डॉक्टर दीपक गुप्ता के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम ने चार घंटे में शिवगिनी का सफल ऑपरेशन कर दिया। कुछ माह बाद वह फिर से मैदान पर नजर आएंगी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: