बंगाल: सीआरपीएफ नहीं होती तो जिंदा बचकर नहीं निकल पाता:शाह

नईदिल्ली । लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में पश्चिम बंगाल की 9 सीटों पर मतदान होना है। वहीं पश्चिम बंगाल में अमित शाह की रैली को लेकर खूब हंगामा बरपा। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कोलकाता में हिंसा को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए ममता पर जबर्दस्त हल्ला बोला है। शाह ने कहा कि बीजेपी तो पूरे देश में चुनाव लड़ रही है, लेकिन हिंसा सिर्फ बंगाल में हो रही है। अमित शाह ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने ही उनकी बाइक और गाडिय़ां जलाईं, अगर कल सीआरपीएफ नहीं होती तो उनका जिंदा निकलना मुश्किल था।


अमित शाह ने कहा कि हम 300 से ज्यादा सीटें जीत रहे हैं। पश्चिम बंगाल में हम 23 से ज्यादा सीटें जीत रहे हैं। ममता दीदी आपकी एफआईआर दर्ज की है, आपकी एफआईआर से हम नहीं डरते, मेरे 60 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की जान आपके गुंडों ने ले ली है, हम डरते नहीं है। ममता दीदी जितना भी हिंसा का कीचड़ फैलाओगी कमल उतना ही खिलेगा।पर्यवेक्षकों ने कहा है कि निष्पक्ष चुनाव के लिए गुंडों को पकडऩा जरूरी है, लेकिन बंगाल में ऐसा नहीं हो रहा है। अगर इसी प्रकार से बंगाल के अंदर चुनाव कराना है तो निष्पक्षता पर सवाल उठाता है। पश्चिम बंगाल में चुनाव आयोग मूकदर्शक बना हुआ है। चुनाव आयोग बंगाल के अंदर एक भी जगह हिस्ट्री शीटरों की गिरफ्तारी को लेकर चुप है।
मैं मानता हूं कि वोट बैंक की राजनीति करने के लिए इतने प्रतिष्ठित व्यक्ति के पुतले को तोडऩा बताता है कि टीएमसी की उलटी गिनती शुरू हो चुकी है। कॉलेज के कमरे किसने खोले? कॉलेज पर किसका प्रशासनिक कब्जा है? बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में हिंसा का कारण टीएमसी है। क्योंकि बीजेपी हिंसा करती तो हर राज्य में होती हैं। केवल बंगाल में नहीं होती, टीएमसी केवल 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, बीजेपी पूरे देश में चुनाव लड़ रही है।
सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के बीच लगातार हिंसक संघर्ष देखने को मिला है। मंगलवार को कोलकाता में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान भी टीएमसी और बीजेपी समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हुई। बीजेपी का कहना है कि इस हिंसा में पार्टी के 100 से ज्यादा कार्यकर्ता घायल हुए हैं। अमित शाह ने इस मुद्दे पर आज ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला किया।
बता दें कि मंगलवार को कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मेगा रोड शो हुआ, लेकिन अंत होते-होते इस पर बवाल हो गया। रोड शो में टीएमसी-बीजेपी समर्थक भिड़ गए, आगजनी भी हुई। ऐसे में इस बार ममता बनर्जी और अमित शाह आमने-सामने हैं।

Spread the love

Leave a Comment