गर्भवती माताओं को मुनगा पौधे का वितरण

नवप्रदेश संवाददाता
कांकेर। मुनगा के पत्ती और फल्ली में भरपूर मात्रा में आयरन एवं पोषक तत्व पाये जाते है, जिससे एनिमिया से बचने में मदद मिलती है और हिमोग्लोबिन बढ़ता है। कलेक्टर श्री के.एल. चैहान के मार्गदन में जिले के गर्भवती माताओं को आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से मुनगा पौधा का वितरण किया जा रहा है ताकि गर्भवती माता मुनगा के पत्ती और फल्ली का सेवन सुविधापूर्वक ढ़ंग से कर सकें। जिले के सभी गर्भवती माताओं को उनके पंजीयन के दौरान मुनगा का एक पौधा उनके घर में लगाने के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग के मैदानी कर्मचारियों पर्यवेक्षक एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा उद्यानिकीय विभाग तथा वन विभाग के नर्सरी से प्राप्त कर इस माह से प्रदाय किया जा रहा है। अब तक कांकेर विकासखण्ड में 280, चारामा विकासखण्ड में 290, नरहरपुर में 225, भानुप्रतापपुर में 745, अंतागढ़ में 645, दुर्गूकोंदल में 374 और कोयलीबेड़ा विकासखण्ड में 315 मुनगा के पौधे वितरित किये गये हैं, यह कार्य निरंतर जारी रहेगा। मुनगा पौधे के देख-रेख की जिम्मेदारी गर्भवती माताओं एवं उस ग्राम के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका की होगी। भविष्य मे मुनगा के पौधे से प्राप्त पत्ती एवं फल्ली का सेवन गर्भवती माताओं द्वारा किया जायेगा, जिससे आयरन एवं अन्य पोषक तत्वों की पूर्ति होगी और उन्हें एनिमिया से बचने में मदद मिलेगी व हिमोग्लोबिन का प्रतिशत बढेगा।

Spread the love

Leave a Comment