छुट्टी घोषित होने से पूर्व छुट्टी दी गई, 30 अप्रैल से पहले बच्चे नदारद

बीजापुर – नवप्रदेश। राजीव गांधी शिक्षा मिशन अन्तर्गत आवासीय विद्यालय को संचालन करने हेतु शासन से लाखों रुपए 30 अप्रैल तक की छात्रवृत्ति बच्चों को रखने हेतु प्रदाय कि जाती हैं परंतु आदर्श गुरुकुल आवासीय बालक विद्यालय दुगाईगुडा के अधीक्षक द्वारा अपने फायदे के लिए बच्चों को 30 अप्रैल से पूर्व ही उन्हें छुट्टी दिया दे दिया गया शासन का ऐसा निर्देश है बच्चों को 30 अप्रैल से पहले छुट्टी नहीं दिया जा सकता परीक्षाएं समाप्त होने के बाद उन्हें पढ़ाई करवाना रहता है। अग्रिम कक्षा का 1 से 5 अध्याय तक अध्ययन कराकर जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा छुट्टी की घोषणा की जाती है किंतु परीक्षा समाप्ति के तुरंत बाद अधीक्षकों द्वारा मेष खर्च बचाने के उद्देश्य से परीक्षा होते ही बच्चों को छोड़ दिया जाता है इसकी जानकारी जिला समन्वयक कार्यालय को भी नहीं दी जाती इसका मतलब यह है कि अधीक्षकों द्वारा अपने मन से बच्चों को कभी भी छोड़ने का कार्य करते रहते हैं अधीक्षकों से पुछने पर कहा जाता है कि बच्चों के पालक आकर जबरन ले जाने का बहाना बताते हैंl

Spread the love

Leave a Comment