जनसँख्या स्थरीकरण माह के तहत दो पखवाड़ों में जारी है विविध आयोजन

कबीरधाम। बढ़ती जनसंख्या रोकने, बच्चों में कम से कम 3 वर्ष का अंतराल रखने और “परिवार नियोजन से निभाएं जिम्मेदारी, मां और बच्चे के स्वास्थ्य की पूरी तैयारी” का प्रचार करने के उद्देश्य से जनसंख्या स्थिरीकरण माह मानई जा रही है। 27 जून से 24 जुलाई तक चलने वाले उक्त गतिविधियों के सम्बंध में सीएमएचओ डॉ सुरेश कुमार तिवारी ने बताया कि 27 जून से दम्पत्ति सम्पर्क पखवाड़ा आरम्भ है जो 10 जुलाई तक चलेगा। इसके पश्चात 11 जुलाई से 24 जुलाई तक जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा 000आरम्भ होगा। उन्होंने बताया कि प्रथम पखवाड़े में लक्ष्य दम्पत्तियों से सम्पर्क कर परिवार नियोजन के साधनों के लाभ के बारे में परामर्श दिया जाता है, इसके पश्चात दूसरे पखवाड़े में सम्बन्धित को सेवाएं दी जाती है। उन्होंने बताया कि गत दिनों जिला कलेक्टर अवनीश कुमार शरण की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में उक्त पखवाड़ों की रूपरेखा और कार्ययोजनाओं के सम्बंध में जानकारी ली गई व दिशानिर्देश दिया गया है । साथ ही समस्त गतिविधियों की लगातार रिपोर्टिंग करने हेतु भी निर्देशित किया गया है।
डॉ तिवारी ने बताया कि इसके लिए जिला चिकित्सालय समेत सभी सीएचसी में परामर्श केंद्र संचालित किये जा रहे हैं, यहां जनसँख्या वृद्धि रोकने के उपायों , सन्तान में अंतराल रखने के लिए उपयोग में लाये जाने वाले स्थायी एवं अस्थायी संसाधनों के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है। उन्होंने बताया कि तेजी से बढ़ती जनसँख्या से सम्बंधित बिंदुओं , चिंताओं और सम्भावनाओं पर लोगों का ध्यान आकर्षित करने के उद्देश्य से शासन द्वारा इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन हर वर्ष किया जाता है। जिले में जनसँख्या स्थिरीकरण हेतु किये गए व्यवस्थओं के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि मिशन परिवार विकास के अंर्तगत जिले में प्रसव से 48 घँटे के अंदर आई यू सी डी लगवाने पर हितग्राही को 300 की राशि दी जाती है। महिलाओं को नसबंदी कराने पर 2000 रू हितग्राही को और 300 रू की राशि प्रेरक को दी जाती है। इसके अलावा पुरुष नसबंदी को भी जिले में प्रोत्साहित किया जा रहा है, इसके लिए 3000 रू हितग्राही को और 400 रू प्रेरक को दिया जाता है। उन्होंने बताया कि जिला चिकित्सालय समेत सीएचसी लोहारा, बोड़ला, पंडरिया व पिपरिया में पुरुष एवं महिला नसबंदी की व्यवस्था नि निर्धारित दिवसों में की गई है। इस सम्बंध में समस्त बीएमओ एवं ब्लॉक स्तर पर सबंधित अन्य विभाग के अधिकारियों को जानकारी दे दी गई है। इसके अलावा लक्ष्य दम्पत्ति सम्मेलनों, नुक्कड़ नाटकों, सास-बहू सम्मेलनों, अनेक बैठकों और विविध प्रतियोगिताओं के माध्यम से जनसंख्या स्थिरीकरण माह मनाया सम्पन्न किया जायेगा और लोगों को जागरूक किया जाएगा। इसके लिए प्रचार-प्रसार वाहन को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: