दो पहाड़ों में भूस्खलन से रेल लाईन बाधित

24 घण्टों के लंबे अन्तरल के बाद भी राहत कार्य जारी
सहायक अभियंता मनेंद्रगढ़, वरिष्ठ अभियंता बिलासपुर की टीम टावर बेंगन से रवाना
नवप्रदेश संवाददाता
बैकुंठपुर / चिरमिरी । कोरिया (Koria) जिले के चिरमिरी नगर निगम (Chirmiri Nagar Nigam) अन्तर्गत आने वाले कोरिया कॉलरी के कोयला को निकालने हेतु पूर्व से निर्मित इस चिरमिरी रेल सेक्शन (Chirmiri Rail Section) में डोमनहिल और टाईगर हिल साइडिंग से होकर दर्रीटोला मेन लाईन (Daritola Main Line ) तक स्थापित रेलवे बेंगन की डोमनहिल सीएचपी साइडिंग में मंगलवार को संध्या लगभग 5 बजे अचानक हुए भूस्खलन से रेलवे लाईन बाधित हो गई जिसकी जानकारी मिलते ही एसईसीएल चिरमिरी के साथ रेलवे प्रबंधक के उच्च अधिकारियों ने मौके पर पहुच अचानक हुए भूस्खलन की स्थिति का जाएजा लिया और अपने उच्च अधिकारियों को इसकी सुचना दे तत्काल बड़ी मात्रा में गिरे मलवे को हटाने का कार्य जारी किया गया ।
मिली जानकारी अनुसार बीते मंगलवार को पिछले एक सप्ताह से निरंतर रुक रुक कर हो रही बरसात के कारण जहाँ आम जन जीवन प्रभावित हुआ है और स्थानीय लोग अपनी रोज मर्रा की जरुरतो को पूरा करने के लिए बरसात के बंद होने का इंतेजार कर रहे । इसी बीच अचानक वर्ष 1960 से स्थापित चिरमिरी रेल सेक्शन (Chirmiri Rail Section) में डोमनहिल और टाईगर हिल साइडिंग से होकर दर्रीटोला तक जुड़ी रेलवे लाईन जो पूर्व से दो पहाड़ो के बीच बनी हुई है उसका लगभग 40 मीटर एक बड़ा हिस्सा अचानक भूस्खलन होने से पूरी रेल लाईन बाधित हो गई और पूरा मलमा रेलवे ट्रैक पर आ गिरा । घटना के बाद सैकड़ो टन का एक चट्टान का मलबा रेल लाईन मार्ग पर जमा हो गया जिसकी जानकारी होते ही लगभग एक घंटे अंतराल में रेलवे प्रबंधक के साथ एसईसीएल चिरमिरी की टीम मौके पर उपस्थित होकर पुरे मामले की जानकारी अपने उच्च अधिकारियों दी जिनके आदेश के बाद रेलवे ग्रुप डी बैकुंठपुर और मनेंद्रगढ़ के लगभग 200 कर्मचारी अपने उपकरणों के साथ मौके पर उपस्थित होकर भारी मात्रा में गिरे मलबे को हटाने व रेल लाईन को क्लियर करने में लगे हुए । जो कार्य बुधवार को भी निरंतर जारी बना हुआ है मौके पर उपस्थित रेलवे के सहायक मंडल अभियंता कृष्ण मोहन झा ने जानकारी देते हुए बताया की इस घटना की जानकारी एसईसीएल चिरमिरी के अधिकारियो के माध्यम से बीते मंगलवार को शाम को दी गई थी जिसकी जानकारी होते ही अपने उच्च अधिकारियो के आदेश पर बैकुंठपुर ग्रुप डी और मनेंद्रगढ़ की टीम की उपस्थिति बीते रात्रि से कार्य निरंतर जारी है और अब आधे से ज्यादा कार्य पूर्ण हो चूका है।
बीते दिवस से निरंतर रुक रुक कर हो रही बरसात के कारण कार्य में बाधा हो रही है अब केवल रेलवे ट्रैक को अपने उपकरणों के माध्यम से क्लियर करने का कार्य जारी है जिसके लिए बैकुंठपुर से टावर बैगन बुलाया गया जिसके पश्चात बिछी पटरियों को सीधा करने और रेलवे लाईन और लगे लाईन विद्दुत पोलो को खड़ा करने का काम होना है उसके बाद पूरी लाईन क्लियर हो जाएगी । इस पूरी घटना में सबसे अच्छी बात यह थी की इस समय कोई लोड वाहन यहाँ नहीं था नहीं तो एक बड़ा हादसा घटित हो जाता बीते 1960 से स्थापित और संचालित इस रेल लाईन में ऐसी पहली घटना हुई यह रेल लाईन बहुत ही पुरानी है जो डोमनहिल सीएचपी से कोयला लोड कर हमारी रेलवे की मेन लाईन दर्रीटोला को जोड़ती है इस घटना के बाद अभी तक लगभग 24 घण्टों से अधिक का समय लग चूका है जो अब अंतिम प्रक्रिया पर है । जिसके बाद पुन: कार्य प्रगति पर होगा वही इस मार्ग पर यात्री ट्रेन का संचालन नही होता हैं जिससे इस घटना से कोई भी यात्री ट्रेन प्रभावित नही हुई है ।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *