मतदाताओ के लिए प्रारंभ होगी चुनावी पाठशाला, प्रशिक्षको ने खेली लँगड़ी, लूडो, साँप सीढ़ी का खेल

election commission of india

रायपुर।लोकसभा निर्वाचन (election commission of chhattisgarh) की सफलता के बाद अब आम मतदाताओ को जागरूक करने के लिए चुनाव पाठशाला पुन: शुरू की जा रही हैं। चुनाव पाठशाला को सक्रिय बनाने के लिए रोचक खेल व् मनोरँजक तरीका प्रारंभ किया जा रहा हैं। इस हेतु स्टेट लेवल पर रिफ्रेशर कोर्स आज से प्रारंभ किया गया । कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी समीर विश्नोई व संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी पद्मिनी भोई साहू की उपस्थिति में किया गया। जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स के राज्य स्तरीय कार्यशाला को संबोधित करते हुए संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी समीर विश्नोई ने कहा की विगत विधानसभा व् लोकसभा चुनाव के दौरान चुनावी साक्षरता क्लब के माध्यम से बेहतर कार्य किया गया है ,जिसके परिणामस्वरूप छत्तीसगढ़ election commission of chhattisgarh में मतदाता जागरूकता बढ़ी हैं। कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य निरन्तरता व सक्रियता हैं। ताकि हम सक्रिय रूप से चुनावी साक्षरता क्लब के माध्यम से विविध मतदाता जागरूकता के कार्यो को करते रहे। चुनावी साक्षरता क्लब बहुआयामी उदेश्यों को लेकर एक सामुदायिक संवाद व् जागरूकता का कार्यक्रम हैं । इसके माध्यम से समुदाय में रचनात्मकता व् सकारात्मक सोच का विकास होगा । समुदाय को लाभ मिलेगा । इससे समाज को ही फायदा होगा। जिस प्रकार से घर में रखे वाहन में जंग न लगे, इसके लिए उसे समय -समय पर चलाना पड़ता हैं ।ठीक उसी प्रकार निर्वाचन पश्चात् इस प्रक्रिया को एक्टिवेट रखने के लिए आगामी निर्वाचन तक यह चलता रहेगा। संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी पद्मिनी भोई साहू ने कार्यशाला को अपने प्रेरक उद्बोधन में कहा कि विगत वर्षो के चुनाव में काफी परिवर्तन आया हैं ।इस बार के चुनाव में भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर मतदाता जागरूकता के लिए लगातार प्रयास किये गए हैं।जिसका सार्थक परिणाम छत्तीसगढ़ के चुनावो में देखने के लिए मिला हैं।आज स्थिति यह है कि पंचायत स्तर तक के लोगों को स्वीप कार्यक्रम के बारे में पता है। जिसका श्रेय रास्ट्रीय , राज्य , जिला व् नोडल अधिकारियो के समर्पण का परिणाम हैं।इस कार्यशाला का उद्देश्य समुदाय में निर्वाचन को लेकर जागरूक करने का, उत्सुकता का विकास करना है।

संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी स्वीप डॉ. के.आर.आर. सिंह के द्वारा प्रतिभागियों को कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य बताते हुए चुनावी साक्षरता क्लब के गठन व् क्रियान्वयन का स्वरुप बताया गया । उन्होंने कहा कि इस कार्यशाला में आपको सक्रियतापूर्वक सहभागिता निभाना हैं व जिलो में अभिनय के माध्यम से प्रशिक्षण के मुख्य उद्देश्यों को पहुचाना हैं।उनके द्वारा इस प्रशिक्षण के पश्चात् संभाग स्तर व् जिला स्तर पर प्रशिक्षण की रणनीति के बारे में बताया गया।स्टेट लेवल मास्टर ट्रेनर व प्रशिक्षण के सहायक नोडल अधिकारी श्री प्रशांत कुमार पाण्डेय के द्वारा प्रतिभागियों को प्रशिक्षण कार्यशाला के सम्बन्ध में आयोग द्वारा निर्धारित आवश्यक दिशा निर्देश व् समय सारणी की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के सभी मतदान केन्द्रों पर चुनाव तथा भावी मतदाताओ को जानकारी देने के लिए रोचक व् मनोरजक कार्यक्रम डिजाईन किया गया हैं, जो अत्यंत लोकप्रिय हुआ हैं। साथ ही कार्यशाला के दो दिन की रणनीति से अवगत कराया ।यह प्रशिक्षण छिपी प्रतिभाओ को सामने लाने का मंच हैं। प्रशिक्षण कार्यशाला में एसएलएमटी सुनील सोनी, निधि अग्रवाल,चुन्नीलाल शर्मा, डॉ कामिनी बावनकर द्वारा प्रतिभागियों को विविध गतिविधियों के माध्यम से ईएलसी के सम्बन्ध में जानकारी प्रदान की। इस कार्यशाला में 27 जिलो से दो- दो जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर उपस्थित रहे ।मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी छत्तीसगढ़ के मार्गदर्शन में चुनाव पाठशाला के क्रियान्वयन हेतु जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स की दो दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला का आयोजन ठाकुर प्यारेलाल राज्य पंचायत एवं ग्रामीण विकास संसथान निमोरा रायपुर में आयोजित किया गया।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *