मुख्यमंत्री ने स्कूली बच्चों के साथ किया मध्यान्ह भोजन

  • बच्चों से पूछा रोज ऐसा ही खाना बनता है: बच्चों ने कहा हां बनता है
  • परिसर में रोपा नीम का पौधा

रायपुर । मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज दुर्ग जिले के ग्राम मर्रा (विकासखण्ड पाटन) के शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला में बच्चों के साथ जमीन पर बिछी दरी पर बैठकर गरमा-गरम स्वादिष्ट मध्यान्ह भोजन किया। इस दौरान उन्होंने बच्चों से बड़े ही अपनत्व और स्नेह के साथ बातचीत की और उनकी पढ़ाई-लिखाई की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने बच्चों से पूछा रोज ऐसा ही खाना बनता है, बच्चों ने बताया हां दाल, चावल, सब्जी और आचार और समय-समय पर खीर भी परोसी जाती है।
शाला के कक्षा 8वीं के युगल किशोर, पूजा और कक्षा 7वीं की सुरुचि कोसले सहित अनेक बच्चों ने मुख्यमंत्री के साथ बैठ कर भोजन किया और मुख्यमंत्री को अपना परिचय दिया। बच्चों ने बताया कि मुख्यमंत्री के साथ भोजन करके उन्हें बेहद अच्छा लगा। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, विधायक श्री आशीष छाबड़ा और स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव श्री गौरव द्विवेदी ने भी इस अवसर पर उनके साथ जमीन पर बैठकर भोजन किया।
मर्रा के इस स्कूल में 170 बच्चे दर्ज हैं। मध्यान्ह भोजन में बच्चों को हर दिन अलग-अलग मेनू में भोजन परोसा जाता है। आज मंगलवार को बच्चों को चावल- अरहर की दाल के साथ आलू-परवल और आलू-चना की सब्जी और खीर परोसी गई।
मुख्यमंत्री ने शाला परिसर में नीम का पौधा रोपा। अतिथियों ने भी परिसर में नीम के साथ आंवला, करंज, जामुन, आम और अमलतास के पौधे रोपित किए। शाला परिसर में बच्चों ने एक बाड़ी भी लगाई है, जिसमें लौकी, भाटा,टमाटर और मिर्ची जैसी सब्जियां और केला, पपीता और कटहल के फलदार पौधे लगाए गए हैं। दुर्ग संभाग के कमिश्नर श्री दिलीप वासनिकर, शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला मर्रा के प्रधान पाठक श्री गंगूराम साहू इस अवसर पर उपस्थित थे।

Spread the love

Leave a Comment