डीजीपी अवस्थी की संवेदनशीलता से बैगा आदिवासी परिवार को भिलाई में मिली राहत

  • सेक्टर 9 अस्पताल में हो गई थी महिला की मौत
  • इलाज की राशि चुकाने में परिवार था असमर्थ

रायपुर । आज सुबह प्रदेश पुलिस प्रमुख को फोन पर सूचना मिली कि शहडोल (म.प्र.) के बैगा आदिवासी केशव प्रसाद की पत्नी का सेक्टर-9 अस्पताल (भिलाई) की बर्न-यूनिट में देहांत हो गया है। बैगा आदिवासी परिवार द्वारा अपनी प्रॉपर्टी को बेचकर ईलाज कराया गया है परन्तु अब वे शेष राशि लगभग रू. 80,000/-(रूपये अस्सी हजार) का भुगतान करने में असमर्थ हैं, जिसके कारण वे मृतिका के शव को ले जाने में कठिनाई महसूस कर रहे हैं। यह जानकारी मिलने के बाद छत्तीसगढ़ के पुलिस प्रमुख डीएम अवस्थी ने प्रकरण की गंभीरता को भांपते हुए तत्काल ही आई.जी. दुर्ग रेंज हिमांशु गुप्ता को बैगा आदिवासी परिवार की सहायता करने हेतु निर्देशित किया गया।

डी.एम. अवस्थी, पुलिस महानिदेशक, छत्तीसगढ़ के निर्देश पर आई.जी. दुर्ग रेंज द्वारा तत्काल सेक्टर-9 अस्पताल (भिलाई) पहुंचकर अस्पताल प्रबंधन से इस संबंध में मानवीय आधार पर शहडोल निवासी बैगा आदिवासी परिवार की सहायता करने हेतु अनुरोध किया गया। सेक्टर-9 अस्पताल के प्रबंधन द्वारा सहृदयता दिखाते हुए तत्काल ही बैगा आदिवासी केशव प्रसाद के उपचार के बिल की बची हुई राशि (लगभग 80, 000/-) माफ की गई एवं आवश्यक औपचारिकताएं पूरी करते हुए मृतिका के शव को परिजनों को सौंपा गया। इस संपूर्ण कार्यवाही में रोहित झा (अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, दुर्ग) एवं निरीक्षक प्रमिला मण्डावी (थाना प्रभारी) की उल्लेखनीय भूमिका रही। इस मानवतापूर्ण कार्यवाही के लिए बैगा आदिवासी केशव प्रसाद एवं उनके परिवार द्वारा डी.एम. अवस्थी, पुलिस महानिदेशक, छत्तीसगढ को कोटि-कोटि धन्यवाद अर्पित किया गया है।

Share

1 thought on “डीजीपी अवस्थी की संवेदनशीलता से बैगा आदिवासी परिवार को भिलाई में मिली राहत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *