बच्चों के खेल गढिय़ा पर लगा कमीशन का ग्रहण, बीईओ साहब कर रहे अपने कार्यालय से सामग्री का वितरण

  • नियमावली में स्पस्ट उल्लेख किसी भी कीमत पर न हो केंद्रीय खरीदी

  • बच्चों की रुचि को दरकिनार कर सभी स्कूलो में थोपा जा रहा एक सा खेल सामग्री

कोंडागाँव । स्थानिय खेलो को बढ़ावा देने मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार Ministry of Human Resource Development Government of India   द्वारा समग्र शिक्षा के वार्षिक बजट  कार्ययोजना एवं बजट 2018-19 में क्रीड़ा एवं व्यायाम सामग्री हेतु राज्य के 30600 प्राथमिक विद्यालयों को प्रति विद्यालय 3000 के मान से 918.12 लाख,13336 उच्च प्राथमिक विद्यालयों को 5000 के मान से 666.80 कुल 15 करोड़ 84 लाख की स्वीकृति प्राप्त हुई थी।
   वही राज्य के 2751 हाई-हायर सेकेंडरी विद्यालयों में 25 हजार के मान से कुल  6 करोड़ 87 लाख 75 हजार रुपये प्राप्त हुए है,वही जिला कोंडागाँव को कुल संचालित 132 हाईस्कूल हायर सेकेंडरी स्कूलों के लिए 33 लाख रुपये प्राप्त हुए हैं।
लेकिन स्कूलो को सीधे जारी हुए राशि पर भी अब,अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की गिद्ध नजर जमी है।
   केंद्रीय खरीदी का दबाव बनाते कमीशन खोरी की नीयत से बीईओ फरसगॉव ने अपने कार्यालय के गोडाऊन में ही खेल सामग्री डंप करवा ली है, व अब स्कूलो पर दबाव बना कर खेल सामग्री जबर्दस्ती पकड़ाया जा रहाहै।
केशकाल विधायक के विधायक प्रतिनिधि का नाम आ रहा सामने
       कमीशन के इस खेल में केशकाल विधायक संतराम के विधायक प्रतिनिधि नरेन्द्र का नाम सामने आ रहा है विस्वस्थ सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि, इस खेल में बीइओ संग विधायक प्रतिनिधि सामिल हैं, जिनके सह पर इस कमीशन के खेल को अंजाम दिया जा रहा है।
गोडाऊन दर्शन करवाने की बात पर गोल-मोल जवाब देते रहे अधिकारी संग प्रभारी
   जब इस प्रकार के कमीशन पर जबरिया खेल  सामग्री स्कूलो को बीइओ कार्यालय के गोडाऊन से देने की जानकारी मीडिया को लगी, जिस पर मीडियाकर्मी फरसगॉव के बीईओ कार्यालय पहुंच बीईओ   केजुराम सिन्हा से मुलाकात कर कार्यालयीन गोडाउन दिखाने का आग्रह करने पर, उन्होंने गोडाउन की चाबी अन्तु राम सहायक गोडाउन प्रभारी के पास होना बतलाया,लेकिन मीडिया के पहुंचने की भनक लगते ही, गोडाउन प्रभारी यहाँ वहाँ फोन से सम्पर्क साध अपने कमीशन के साझेदारों को जानकारी देते नजर आए। वही उन्होंने कहा कि वे चाबी अपने घर पर ही भूल आये है,जब गोडाउन दिखलवाने के लगातार निवेदन पर वे चाबी  अपने घर से लाने की बात कहकर गायब हो गए,जहा मीडिया कर्मी 12 बजे से शाम  5:30 बजे तक इंतेजार ही करते रहे पर बीईओ व गोडाऊन प्रभारी के गोल मोल रवैए के चलते शाम तक मीडियाकर्मी डटे रहे लेकिन गोडाउन नही खोला गया।
विधायक कार्यालय से मीडियाकर्मियों को आते रहे फोन लगातार
       गोडाउन प्रभारी के इंतेजार में बीइओ कार्यालय में बैठे मीडिया कर्मियों को लगातार विधायक केशकाल कार्यालय से लगातार मामले पर फोन आ रहे थे, पूछने पर बताया गया कि वे नरेंद्र जैन विधायक प्रतिनिधि है, व सामग्री स्कूलो में जा कर देखने की बात कहने लगे, वही यह सप्लाई  उनके जानकारी से होना बतलाया गया।  वही देर शाम  जब गोडाउन प्रभारी से फोन पर सम्पर्क किया गया तो उन्होंने सीधे गोडाउन दिखलवाने से मना कर दिया।
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *