प्रदेशभर में धान की 2500 कीमत नहीं मिलने पर BJP का बवाल

chhattsghar Paddy Purchase Start

Dr raman singh

 भाजपा लीडरों ने कहा गंगा जल लेकर वादा किये अब मोद को कोस रहे

नवप्रदेश संवाददाता
रायपुर। छत्तीसगढ़ (chhattsghar) में इन दिनों धान खरीदी (Paddy Purchase Start) के मुद्दे को लेकर सियासत गरमाई हुई है। रायपुर  के समीप नगपुरा धान खरीदी केंद्र के बाहर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, पूर्व विधायक नवीन मारकंडे, चंद्रशेखर साहू समेत बीजेपी के अन्य पदाधिकारी धरना-प्रदर्शन किये।

इस मौके पर समर्थन मूल्य (support price) में धान नहीं खरीदने को लेकर विरोध जताते हुए डॉ. रमन सिंह मुख्यमंत्री भूपेश सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में बस्तर से लेकर सरगुजा के धान खरीदी केंद्र में धरना दिया जा रहा है। किसानों का सबसे ज्यादा अपमान हो रहा है. यही भूपेश बघेल हमें बार-बार चिट्टी लिखते थे कि 1 नवम्बर से धान खरीदी (Paddy Purchase Start) करें। आज खुद एक माह विलंब से धान खरीद रहे हैं।

BIG BREAKING: छत्तीसगढ़ भाजपा में अंतर्कलह, आज ये बड़े नेता छोड़ देंगे पार्टी

रमन सिंह ने कहा कि आज प्रदेश में भय और आतंक का माहौल है। वादा खिलाफी की जा रही है। सरकार की नीति को लेकर जनता में आक्रोश है। जब भी मौका मिलेगा जनता सरकार पलट देगी। इन लोगों ने घूम घूम कर गंगा जल लेकर वादा करे थे कि 25 सौ में धान खरीदेंगे। अब मोदी को कोस रहे है कि केंद्र धान नहीं खरीद रहा है।

वहीं धरना-प्रदर्शन में शामिल हुए पूर्व कृषि मंत्री चंद्रशेखर साहू ने कहा कि धान को हाथ में लेकर हम लोग संकल्प लेते हैं कि जब तक सरकार 25 सौ रुपए में धान नहीं खरीदेगी तब तक चैन से नहीं बैठेंगे. हमारा विरोध जारी रहेगा। प्रदेशभर के सहकारी समितियों में बीजेपी कार्यकर्ता हल्ला- बोल प्रदर्शन कर रहे हैं।

सोटा खाने के लिए मुख्यमंत्री नहीं बने हैं-भाजपा

भाजपा नेताओं ने धरना-प्रदर्शन स्थल से ही पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर, नेताप्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने विधानसभा में तीखे सवाल किये थे। आज हल्ला बोल कार्यक्रम में भाजपा नेताओं ने वही सवाल किया और सीएम भूपेश से पूछा कि एक साल हो गया है किसानों का बकाया बोनस का क्या हुआ दाऊजी। जब 2500 रुपए का वादा किया था उस समय प्रधानमंत्री जी से पूछने गए थे क्या?

भूपेश बघेल इन 12 महीनों में सिर्फ गम्मत कर रही है। सोटा खाने के लिए मुख्यमंत्री नहीं बने हैं काम करने के लिए जनता ने आपको चुना है. सरकार ने विकास के काम मे जोर नही दिया। किसानों और मजदूरों के साथ अन्याय कर रही है। किसान के साथ अत्याचार बंद होना चाहिए इसलिए पूरे प्रदेश में धरना दिया जा रहा है।

 

बड़ी खबर: टूट की कगार पर महाराष्ट्र भाजपा, ये बड़ी नेता छोड़ रहीं पार्टी

Share

News In English

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: