छत्तीसगढ़ के नाम एक और उपलब्धि, 31 हजार, 657…

chhattisgarh, dmf, project, sanction, navpradesh,

project

कोरबा/नवप्रदेश। छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के नाम एक और उपलब्धि आ गई है। जिला खनिज न्यास मद (dmf) के अंतर्गत पूरे देश में छत्तीसगढ़ राज्य द्वारा सर्वाधिक 31 हजार 657 परियोजनाओं (project) (कार्य) की स्वीकृति (sanction) दी गई है। ओडिशा, झारखण्ड के बाद छत्तीसगढ़ ने डीएमएफ में चार हजार 435 करोड़ रुपये की सहभागिता दी है।

ऐसे आगे रहा छत्तीसगढ़

इसमें कोरबा जिले का योगदान सबसे अधिक है। छत्तीसगढ़ में स्वीकृत 20 हजार 25 प्रोजेक्ट्स पूरे कर लिए गए हैं। 10 हजार 184 परियोजनाओं पर काम चल रहा है। 1448 कार्य ऐसे हैं, जिन्हें रद्द किया गया है। लेकिन पूरे देश में छत्तीसगढ़ (chhattisgarh)  ने ही डीएमएफ (dmf) के अंतर्गत सर्वाधिक परियोजनाओं (project) को स्वीकृति (sanction) दी है।

अन्य राज्यों का हाल

ओडिशा का याेगदान 8 हजार 253 करोड़

राज्य ने डीएमएफ (dmf) में आठ हजार 253 करोड़ रुपये का याेगदान दिया है। 12 हजार 664 प्रोजेक्ट्स को मंजूरी दी गई है। इसमें 5 हजार 438 प्रोजेक्ट्स पूरे हो सके हैं तथा 4130 पर कार्य चल रहे हैं। 3096 प्रोजेक्ट्स ऐसे हैं जो चालू होने हैं।

झारखंड का सहभागिता चार हजार 585 करोड़ की

झारखंड द्वारा चार हजार 585 करोड़ रुपये की सहभागिता डीएमएफ में दी गई है। 16 हजार 519 विभिन्न परियोजनाओं को स्वीकृति दी गई है। ओडिशा एवं झारखण्ड ऐसे राज्य हैं जहां एक भी कार्य निरस्त नहीं हुए हैं। राजस्थान द्वारा 3092, तेलांगना 2632 तथा मध्यप्रदेश राज्य ने 2556 करोड़ रुपये की सहभागिता दी है।

कुल 557 जिले जुड़े हैं डीएमएफ से

जानकारी के अनुसार पूरे देश में 557 जिले डीएमएफ से जुड़े हुए हैं। इन जिलों में 31 हजार 830 करोड़ रुपये जनरेट हुए तथा विभिन्न परियोजनाओं के लिए 26 हजार करोड़ रुपये का आवंटन हुआ। एक लाख 33 हजार 214 प्रोजेक्ट्स स्वीकृत किये गए, लेकिन नौ हजार 555 करोड़ रुपये के 45 हजार 523 प्रोजेक्ट्स पूरे किए जा सके। आंकड़े अगस्त 2019 तक के हैं।

Share

News In English

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: