बीजापुर में प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला के लिए देवदूत बने ये जवान, कंधों पर…

bijapur crpf jawan, pregnant woman, hospital, navpradesh,

bijapur crpf jawan

बीजापुर/नवप्रदेश। बीजापुर (bijapur crpf jawan)  के धुर नक्सल प्रभावित इलाके में सीआरपीएफ के जवानों ने मानवता की मिसाल पेश की है। जवानों ने प्रसव पीड़ा से तड़प रही एक गर्भवती महिला (pregnant woman) को खाट के सहारे अपने कंधों पर उठाकर हास्पिटल (hospital) पहुंचाया।

बीजापुर (bijapur crpf jawan)  में सीआरपीएफ की85 बटालियन के जवानों ने गर्भवती महिला (pregnant woman) को खाट पर अपने कंधों पर लाद छह किमी दूर स्थित अस्पताल (hospital) तक पहुंचाया, जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए एंबुलेेंस के जरिए बीजापुर जिला अस्पाल लाया गया। महिला का नाम बुद्धि हपका है, जो पदेडा गांव के गायतापारा की रहने वाली है।

एरिया डोमिनेशन के लिए निकले थे जवान

सीआरपीएफ की 85 बटालियन के कमांडेंट यादवेंद्र यादव ने इस मामले की जानकारी देते हुए बताया कि हमारी कंपनी के जवान एरिया डोमिनेशन के लिए पदेडा और संतोषपुर जैसे संवेदनशील क्षेत्र की ओर निकले थे।

इस दौरान कुछ ग्रामीणों ने गर्भवती महिला को अस्पताल ले जाने के लिए जवानों से मदद मांगी। जब जवान महिला के पास पहुंचे तो महिला प्रसव के दर्द से तड़प रही थी। जवानों ने महिला को बिना देर किए खाट पर लिटाया और अपने कंधों पर उठाकर करीब 6 किमी पैदल चल चेरपाल अस्पताल पहुंचा दिया। इसके बाद महिला को एम्बुलेंस के जरिये जिला चिकित्सालय लाया गया।

गंगालूर रोड में कम होने लगी नक्सल वारदातें

उल्लेखनीय है कि नक्सलियों के लिहाज से संवेदनशील जिले के गंगालूर रोड में सीआरपीएफ की 85 बटालियन पदस्थ है। इस इलाके में नक्सलियों का काफी प्रभाव है। लेकिन जब से यहां सीआरपीएफ की 85 बटालियन के जवानों ने मोर्चा संभाला है तब से नक्सली घटनाओं में काफी कमी आई है। जवान आये दिन ग्रामीणों की मदद करते हुए नजर आ जाते हैं। ग्रामीण भी जवानों के प्रति अपना विश्वास व्यक्त करने लगे हैं।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: