राज्य के जंगल में ओडिशा के लोगों का अवैध कब्जा, 16 को जेल

राज्य के जंगल में ओडिशा के लोगों का अवैध कब्जा, 16 को जेल

वन विभाग की बड़ी कार्रवाई, हथियारों के साथ किया गरिफ्तार उदंती सीतानदी टाइगर रिर्जव क्षेत्र के जंगलों का मामला मैनपुर। छत्तीसगढ़ chhattisgarh के उदंती सीतानदी टाइगर रिर्जवudanti sitanadi tiger reserve क्षेत्र के जंगलों forest में पिछले कई वर्षों से अवैध कब्जे का खेल चल रहा है। यह टाइगर रिजर्व ओडिशा राज्य की सीमा से लगा हुआ है। और ओडिशा के लकड़ी तस्कर ही छत्तीसगढ़ की सीमा में पहुंचकर कीमती जंगलों forest को नुकसान पहुंचा रहे हैं…

Read More

अरण्यरोदन नहीं हुंकार है : कनक तिवारी

अरण्यरोदन नहीं हुंकार है : कनक तिवारी

कनक तिवारी आदिवासी वर्षों से शिकायत कर रहे हैं उनका शोषण, नेता, नगरसेठ, राजस्व, आबकारी, पुलिस, वन और खदान विभाग के अधिकारी सहित कलेक्टर, कमिश्नर और गांव स्तर के जनप्रतिनिधि करते रहते हैं। कोई सरकार आश्वासन पत्र की गारंटी प्रकाशित नहीं करती कि शासकीय अमानत में खयानत की बददिमागी को आदिवासियों के हित में चुस्त दुरुस्त कर लेगी। कोई राजनेता कसम नहीं खाता आदिवासी क्षेत्रों में स्कूल, अस्पताल, नौकरी, पीने के पानी, सस्ते अनाज, सफाई…

Read More

पराभव का पाकिस्तान और नाकाम इमरान

पराभव का पाकिस्तान और नाकाम इमरान

योगेश मिश्र पाकिस्तान के वजीरे आलम इमरान खान ने अपने चुनावी अभियान में कहा था कि खुदकुशी करना पसंद करेंगे, लेकिन कर्ज नहीं लेंगे। हैरतअंगेज यह है कि इमरान जब अपने पहले विदेशी दौरे पर सऊदी अरब पहुंचे तब उन्होंने आर्थिक मदद मांग ली। पिछले पांच साल में पाकिस्तान में कर्ज की राशि 60 अरब डॉलर से पढ़कर 95 अरब डॉलर पहुंच गई है। चीनी कर्ज का सबसे ज्यादा खतरा पाकिस्तान पर मंडरा रहा है।…

Read More

करना होगा ऐसे दरिंदों का सामाजिक बहिष्कार

करना होगा ऐसे दरिंदों का सामाजिक बहिष्कार

डॉ. नीलम महेन्द्र हर आँख नम है हर शख्स शर्मिंदा है क्योंकि आज मानवता शर्मसार है इंसानियत लहूलुहान है। एक वो दौर था जब नर में नारायण का वास था लेकिन आज उस नर पर पिशाच हावी है। एक वो दौर था जब आदर्शों नैतिक मूल्यों संवेदनाओं से युक्त चरित्र किसी सभ्यता की नींव होते थे लेकिन आज का समाज तो इनके खंडहरों पर खड़ा है। वो कल की बात थी जब मनुष्य को अपने…

Read More

हार के बाद रार

हार के बाद रार

कांग्रेस  की देशव्यापी शिकस्त से पस्त कांग्रेस शासित राज्यों में अंतर्कलह के जो सुर तेज हो रहे हैं, उनका उभरना स्वाभाविक है। यूं तो केंद्रीय नेतृत्व ही पार्टी पराभव व दिग्गजों के धराशायी होने से उबर नहीं पाया है। नेतृत्व का प्रश्न व इस्तीफा प्रकरण का पटाक्षेप अभी शेष है। जहां तक हरियाणा, पंजाब व राजस्थान में पार्टी संगठन व सरकार में जारी अंतर्कलह का सवाल है तो उसके बीज आम चुनावों में अप्रत्याशित हार…

Read More

जीएम फसलों के जंजाल से किसान बेहाल

जीएम फसलों के जंजाल से किसान बेहाल

प्रमोद भार्गव दुनिया में शायद भारत एकमात्र ऐसा देश है, जिसमें नौकरशाही की लापरवाही और कंपनियों की मनमानी का खमियाजा किसानों को भुगतना पड़ता है। हाल ही में हरियाणा के एक खेत में प्रतिबंधित बीटी बैंगन के 1300 पौधे लगाकर तैयार की गई फसल को नष्ट किया गया है। ये फसल हिसार के किसान जीवन सैनी ने तैयार की थी। उसने जब हिसार की सड़कों के किनारे बैंगन की इस पौध को खरीदा तो उसे…

Read More

कांग्रेस की इक्कीसवीं सदी (3) : कनक तिवारी

कांग्रेस की इक्कीसवीं सदी (3) : कनक तिवारी

इंदिरा गांधी ने अभिमन्यु शैली में जब चक्रव्यूह में फंसने के बाद सिंडिकेट के कौरवों को ललकारा था, तब वृद्ध इतिहास की घिग्गी बंध गई थी। राजीव गांधी ने सत्ता में रहकर (और उसके बाद भी) कांग्रेसजनों को जिस कदर अभिभूत किया था। आज भी पर्यवेक्षक यही बताने में मशगूल हैं कि कांग्रेस का अंदरूनी संकट फोड़े की तरह फूट रहा हो तो उस पर सोनिया गांधी के हाथ ही मरहम लगा सकते हैं। इटली…

Read More

कांग्रेस की इक्कीसवीं सदी (2): कनक तिवारी

कांग्रेस की इक्कीसवीं सदी (2): कनक तिवारी

बहुत कम लोगों को पता होगा कि परिवार के खर्च का मुख्य स्त्रोत जवाहरलाल नेहरू की किताबों से मिली रायल्टी ही रहा है। मौलाना आज़ाद उर्दू, फह्यह्यह्य०ह्यारसी और अरबी के प्रवर्तक विद्वानों में से एक रहे हैं। डॉ0 राजेन्द्र प्रसाद का अंग्रेजी भाषा पर इतना एकाधिकार था कि कांग्रेस वर्किंग कमेटी के वाद विवाद का निचोड़ प्रस्ताव की शक्ल में जब भी वे लिखते थे, उसमें एक शब्द का हेरफेर भी देखने और करने की…

Read More

कांग्रेस की इक्कीसवीं सदी : कनक तिवारी

कांग्रेस की इक्कीसवीं सदी : कनक तिवारी

आवश्यक सूचना लोकसभा चुनाव के परिणाम आने पर कांग्रेस की स्थिति के संबंध में देश में गंभीर चर्चाएं चल रही हैं। नवप्रदेश को इस संबंध में महत्वपूर्ण वैचारिक सामग्री की तलाश थी। अचानक हमारी पुरानी फाइलों में पिछले लोकसभा चुनाव के बाद विशेषकर कांग्रेस की स्थिति पर लिखा गया एक बेहद महत्वपूर्ण लेख हाथ लग गया जिसमें नकारात्मक के बदले कांग्रेस की सकारात्मक भूमिका की तलाश की गई है। यह लेख नवप्रदेश के सुपरिचित लेखक…

Read More

विश्व कप उठाने की पूरी क्षमता है इस टीम में

विश्व कप उठाने की पूरी क्षमता है इस टीम में

नितेश छाबड़ा 9301779330 nicnitesh@gmail.com आखिरकार पिछले कुछ दिनों से चली आ रही अटकलों को विराम देते हुए बीसीसीआई ने परसों 15 सदस्यीय भारतीय टीम का चयन कर लिया। मुख्य चयनकर्ता एम.एस.के.प्रसाद की अगुवाई एवं कप्तान विराट कोहली की मौजूदगी में डेढ़ घण्टे की बैठक के दौरान यह फैसला लिया गया। टीम इस प्रकार है – विराट कोहली(कप्तान),रोहित शर्मा(उपकप्तान),महेंद्र सिंह धोनी, शिखर धवन, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, केएल राहुल,भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, यजुवेंद्र चहल,…

Read More
1 2