कलेक्टर ने तैयार किया ऐसा एक्शन प्लान की सुरक्षित वापस लाये गए आंध्र में बंधक सुकमा के 15 युवा युवती

सुकमा । सुकमा जिले के लगभग 15 युवा-युवतियों को एक ठेकेदार द्वारा विजयवाड़ा शांति नगर आन्ध्र प्रदेश ले जाकर काम के नामपर बंधक बनाने का मामला सामने आया जिस पर सुकमा कलेक्टर चंदन कुमार ने कुछ इसतरह एक्शन प्लान तैयार किया कि रेस्क्यू कर सभी बच्चे सुरक्षित अपने जिले वापस लाए गए । ठेकेदार आंध्र के प्रकाशम जिले में सुकमा के अध्ययनरत बालकों को वापस नहीं आने दे रहा था परिजनों की शिकायत पर कलेक्टर ने तुरंत एक्शन प्लान तैयार कर युवा युवतियों को छुड़ाकर लाने एक टीम गठित की जिसमे बाल संरक्षण, पुलिस ,प्रकाशम जिले की टीम शामिल रही ।

जिला बाल संरक्षण अधिकारी जितेंद्र सिंह बघेल द्वारा पत्र में प्रदाय नंबर को पुलिस विभाग के सहयोग से ट्रेस करते हुए वर्तमान में स्थिति ओंगोल जिला प्रकाशम (आन्ध्र प्रदेश) ज्ञात हुआ। आंध्रप्रदेश के जिल प्रकाशम के कलेक्टर को रेस्क्यू अभियान में आवश्यक सहयोग प्रदान करने के लिए समन्वय स्थापित किया ।
प्रकाशम के कलेक्टर ने ठेकेदार के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही करते हुए बालको की मजदूरी उन्हें प्रदाय कराने के लिए निर्देशित किया गया । तत्काल प्रकाशम् एवं सुकमा की संयुक्त टीम उक्त स्थान पर पहुंची एवं ग्राम पंचायत कोर्रा जिला सुकमा के लगभग 15 बालकों को रेस्क्यू किया गया और जिला वापस लाकर परिजनों के सुपुर्द किया गया ।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: