प्लास्टिक का विकल्प खोजें आईआईटी के छात्र : मोदी

स्टार्ट अप ग्रांड चैलेंज योजना की शुरुआत की

मथुरा/नवप्रदेश। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (prime minister narendra modi) ने आईआईटी (iit) के छात्रों (students) से पशुओं के लिए हरे चारे (green fodder) की व्यवस्था करने और प्लास्टिक (plastic) का सस्ता विकल्प (substitute) देने की अपील की। प्रधानमंत्री बुधवार को स्टार्ट अप ग्रांड चैलेंज योजना की शुरुआत करते हुए बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि छात्र नए विचारों के साथ आगे आएं। सरकार उस पर गंभीरता से विचार करेगी और जरूरी निवेश करेगी। इससे रोजगार भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्लास्टिक की थैलियों का सस्ता और सुलभ विकल्प क्या हो सकता है। ऐसे अनेक विषयों का हल देने वाले स्टार्ट अप शुरू किए जा सकते हैं। देश के डेयरी सेक्टर को विस्तार देने के लिए हमें नई तकनीक की जरूरत है। ये नवाचार हमारे ग्रामीण समाज से भी आएं इसीलिए स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज की शुरुआत की जा रही है।

एक बार उपयोग किए जाने वाले प्लास्टिक से छुटकारा पाना ही होगा :

प्रधानमंत्री ने कहा कि प्लास्टिक की समस्या समय के साथ गंभीर होती जा रही है। प्लास्टिक के खाने से पशुओं एवं जलीय जीवों के निगलने से उनका जिन्दा बचना मुश्किल हो रहा है। एक बार उपयोग किये जाने वाले प्लास्टिक से छुटकारा पाना ही होगा। उन्होंने लोगों से अपने घर, दफ्तर और कार्यक्षेत्र को प्लास्टिक मुक्त करने का अनुरोध भी किया। कहा कि इसमें गैर सरकारी संगठनों , स्कूलों , कॉलेजों , महिला संगठनों और अन्य संगठनों को इस अभियान से जुडऩा चाहिए। इससे आने वाली पीढ़ी का भविष्य उज्जवल होगा ।

Share

Leave a Comment